योगी आदित्यनाथ
मुख्यमंत्री (उ.प्र.)
गोरक्षपीठाधीश्वर, गोरक्षपीठ
सदस्य (विधान परिषद, उ.प्र.)
पूर्व सांसद (लोक सभा) गोरखपुर, उत्तर प्रदेश

जीवन वृत  
जन्म तिथि - 5 जून,1972
जन्म स्थान - उत्तराखण्ड
वैवाहिक स्थिति - विरक्त ब्रह्मचारी
शिक्षा - विज्ञान से स्नातक
पता - श्री गोरखनाथ मन्दिर, गोरखपुर (उ.प्र.)273015
फोन - (0551) 2255453, 2255454
फैक्स - (0551) 2255455
दिल्ली का पता - 123-125, नार्थ एवेन्यू, नई दिल्ली-1
फोन - (011) 23092633
अभिरुचि - धर्म, अध्यात्म, सामाजिक-सांस्कृतिक कार्य, गो-रक्षा एवम् हिन्दुत्व पर आधारित राजनीति।
प्रकाशित पुस्तकें - यौगिक षट्कर्म
हठयोग:स्वरूप एवं साधना
राजयोग:स्वरूप एवं साधना
हिन्दु राष्ट्र नेपाल : अतीत एवं वर्तमान
प्रधान सम्पादक - योगवाणी
सम्बन्धित संस्थाएँ-  

अध्यक्ष -

1. महाराणा प्रताप पॉलीटेक्निक, गोरखपुर।
2. दिग्विजयनाथ स्वाध्याय केन्द्र एवं विचार मंच, गोरखपुर।
3. किसान इण्टरमीडिएट कालेज, बर्गोनिया, देवरिया।
4. गुरु गोरक्षनाथ महाविद्यालय, उत्तराखण्ड।
5. विश्व हिन्दु महासंघ, भारत।

वरिष्ठ उपाध्यक्ष-

1. आदि शक्ति माँ पाटेश्वरी पब्लिक स्कूल, देवीपाटन, तुलसीपुर, बलरामपुर।

उपाध्यक्ष -

1. श्री माँ पाटेश्वरी सेवाश्रम चिकित्सालय, देवीपाटन, तुलसीपुर, बलरामपुर।
2. दिग्विजयनाथ इण्टर कालेज, चौक माफी, पीपीगंज, गोरखपुर।

मंत्री/प्रबन्धक -

1. गुरु श्री गोरक्षनाथ चिकित्सालय, गोरखनाथ मन्दिर, गोरखपुर।
2. महन्त दिग्विजयनाथ आयुर्वेद चिकित्सालय, गोरखनाथ मन्दिर, गोरखपुर।
3. महाराणा प्रताप स्नातकोत्तर महाविद्यालय, जंगल धूसड़, गोरखपुर।
4. महाराणा प्रताप महिला महाविद्यालय, रामदत्तपुर, गोरखपुर।
5. गोरक्षपीठाधीश्वर महन्त अवेद्यनाथ महाविद्यालय, चौक बाजार, महराजगंज।
6. दिग्विजयनाथ बालिका इण्टर कालेज, चौक बाजार, महराजगंज।
7. महाराणा प्रताप कृषक इण्टर कालेज, जंगल धूसड़, गोरखपुर।
8. महन्त दिग्विजयनाथ इण्टर कालेज, चौक बाजार, महराजगंज।
9. महाराणा प्रताप सीनियर सेकेण्ड्री स्कूल, बेतियाहाता, गोरखपुर।
10. गुरु गोरखनाथ विद्यापीठ, भरोहिया, पीपीगंज, गोरखपुर।
11. गोरखनाथ संस्कृत उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, गोरखनाथ, गोरखपुर।
12. महायोगी गुरु गोरखनाथ योग संस्थान, गोरखनाथ, गोरखपुर।
13. गुरु श्री गोरखनाथ स्कूल ऑफ नर्सिंग, गोरखनाथ, गोरखपुर।
14. गुरु गोरक्षनाथ इन्स्टीच्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, ग्राम-सोनबरसा, पोस्ट-मानीराम, गोरखपुर।

संयुक्त सचिव -

1. महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद्, गोरखपुर।
2. दिग्विजयनाथ स्नातकोत्तर महाविद्यालय, गोरखपुर।
3. महाराणा प्रताप इण्टर कालेज , गोरखपुर।
4. महाराणा प्रताप बालिका विद्यालय, रामदत्तपुर, गोरखपुर।
5. दिग्विजयनाथ हाईस्कूल, चौक माफी, पीपीगंज, गोरखपुर।
6. श्रीगोरक्षनाथ संस्कृत विद्यापीठ, गोरखपुर।
7. दिग्विजयनाथ कालेज ऑफ टीचर्स एजुकेशन, सिविल लाइन्स, गोरखपुर
8. महाराणा प्रताप बालिका विद्यालय, सिविल लाइन्स, गोरखपुर।
9. महाराणा प्रताप जूनियर हाईस्कूल, गोरखपुर।

संसदीय अनुभव एवं जिम्मेदारी -

12वीं लोकसभा में पहली बार गोरखपुर से सांसद (1998) 1998-1999
सदस्य - खाद्य प्रसंस्करण उद्योग और वितरण मंत्रालय
सदस्य - चीनी और खाद्य तेल वितरण, उप समिति
सदस्य - गृह मंत्रालय की सलाहकार समिति


13वीं लोकसभा में दूसरी बार गोरखपुर से सांसद (1999), 1999-2004
सदस्य - खाद्य प्रसंस्करण उद्योग और वितरण मंत्रालय
सदस्य - गृह मंत्रालय की सलाहकार समिति

14वीं लोकसभा में तीसरी बार गोरखपुर से सांसद (2004), 2004-2007
सदस्य - गृह मंत्रालय की सलाहकार समिति
सदस्य - ग्रामीण विकास मंत्रालय
सदस्य - विदेश मंत्रालय स्थायी समिति
सदस्य - काशी हिन्दू विश्वविद्यालय
सदस्य - अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय
सदस्य- विदेश मामलों पर स्थायी समिति

15वीं लोकसभा में चौथी बार गोरखपुर से सांसद (2009), 2009-2014
सदस्य - गृह मंत्रालय की सलाहकार समिति
सदस्य - परिवहन, पर्यटन एवम् संस्कृति मामलों की संसदीय समिति

16वीं लोकसभा के लिए लगातार पाँचवीं बार निर्वाचित (2014 से अगस्त 2017 तक)
सभापति - संयुक्त संसदीय समिति वेतन, भत्तों एवं पेंशन सम्बन्धी
सदस्य - गृह मंत्रालय की सलाहकार समिति
सदस्य - सड़क परिवहन, पर्यटन एवम् संस्कृति मंत्रालय की संसदीय स्थायी समिति
सदस्य - सार्वजनिक उपक्रम सम्बन्धी संसदीय समिति

माननीय मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री दिनांक 19 मार्च 2017 से ...

विदेश यात्राएं - अमेरिका, मलेशिया, थाईलैण्ड, सिंगापुर, कम्बोडिया, नेपाल।

सर्वश्रेष्ठ समीक्षा

आपका मत

आप के विचार

  • बूचड़ खाना बंद करने पर धन्यावाद

    राजेश patodi हम यह चाहते हे की यह नियम पुरे भारत देश शक्ति से लागु किया जाये हम आशा करते हे की आप की यह मेहनत जरूर रंग लाएगी जय हिन्द जय भारत ,राजेश पटौदी म.प. इंदौर
  • शिक्षा

    अभिशेष एक अपील मोदी जी और योगी जी से की प्राइवेट स्कूल की फीस पर कोई लगाम नहीं है और उनके स्कूल मे पढ़ाया जाने वाला कोर्स बाजार भाव से पांच गुना दामों मे बेचा जा रहा है । आपसे निवेदन है कि इन दोनों बातो पर अपना ध्यान दे ।
  • संपूर्ण देखें